अंतर्राष्ट्रीय मातृ भाषा दिवस जिसे प्रत्येक वर्ष 21 फरवरी को मनाया जाता है। भारतीय उपमहाद्वीप के संदर्भ में।

21 फरवरी को अंतर्राष्ट्रीय मातृ भाषा दिवस मनाया जाता है जो शायद अंग्रेजी के mother language का अनुवाद है। वैसे देखा जाए या मानवीय संवेदनाओं के मद्देनजर ख्याल किया जाए तो मादरी जुबान का अर्थ मां बोली होना चाहिए।

Mother language और Mother tounge के महीन लेकिन गहरे अंतर को छोड़कर भारत एवम दक्षिण एशिया के संदर्भ में इसके महत्व की चर्चा करते हैं।

अंतर्राष्ट्रीय मातृ भाषा दिवस को मनाए जाने की घोषणा 1999 में संयुक्त राष्ट्र के तत्वाधान में की गई और इसका संदर्भ 21 फरवरी 1952 को ढाका मेडिकल कॉलेज का मातृ भाषा आंदोलन था। शायद एक बार फिर उस आंदोलन को याद किया गया या उसे अंतर्राष्ट्रीय मान्यता प्राप्त हुई।

भारतीय उपमहाद्वीप को एक ओर तो प्रकृति ने अपने सभी संसाधनों और नियामतों से नवाजा है दूसरा सदियों तक इसकी प्राकृतिक सीमाओं से सुरक्षा भी की है। दक्षिण में अथाह सागर है तो उत्तर तथा उत्तर पश्चिम में पहाड़ एवम रेगिस्तान।

समय के साथ साथ बाहरी जगत को मालूम होता गया और दुनिया भर से विभिन्न सभ्यताएं अपनी अपनी संस्कृति तथा भाषा बोली के साथ आती गई और बसती गई। कभी किसी को भाषा के कारण एक दूसरे से तकलीफ हुई हो ऐसा कोई साक्ष्य नहीं मिलता क्योंकि सबके बीच एक सांझी भाषा बोली हमेशा मौजूद रही और वो थी प्रेम की भाषा।

1947 के बाद दुर्भाग्य से उपमहाद्वीप के तीनों हिस्सो मे भाषा के आधार पर जहर खुरानी की कोशिश की गई जो आज तक जारी है और भाषाओं को धर्म से जोड़कर दिखाया जा रहा है।

एक महत्वपूर्ण चर्चा का विषय होना चाहिए लेकिन इस समय नहीं। फिलहाल तो NewsNumber.Com की ओर से सभी को शुभकामनाएं एवम मां बोली का एहतराम करने का सुझाव

 

ਮਾਂ ਬੋਲੀ ਦੇ ਪ੍ਰਚਾਰ ਤੇ ਪ੍ਰਸਾਰ ਸਬੰਧੀ ਵਿਚਾਰਾਂ ਤੋਂ ਬਾਅਦ ਕਵੀ ਦਰਬਾਰ ਦੀ ਸ਼ੁਰੂਆਤ

ਸ਼੍ਰੀ ਦੁਰਗਾ ਭਜਨ ਮੰਡਲੀ ਮੁੱਦਕੀ ਦੀ ਧਰਮਸ਼ਾਲਾ ਵਿਖੇ ਸਾਹਿਤ ਸਭਾ ਮੁੱਦਕੀ (ਰਜਿ.) ਦੇ ਪ੍ਰਧਾਨ ਸੁਖਦੀਪ ਸਿੰਘ ਗਿੱਲ (ਰੰਮੀ ਗਿੱਲ) ਦੀ ਪ੍ਰਧਾਨਗੀ ਵਿੱਚ ਸਾਹਿਤ ਸਭਾ ਮੁੱਦਕੀ ਦੀ ਮੀਟਿੰਗ ਹੋਈ। ...

ਫੋਕਲੋਰ ਵੱਲੋਂ ਅੰਤਰ-ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਮਾਂ-ਬੋਲੀ ਦਿਵਸ ਨੂੰ ਸਮਰਪਿਤ ਵਿਸ਼ਾਲ ਸੈਮੀਨਰ ਕਰਵਾਇਆ ਗਿਆ

ਫੋਕਲੋਰ ਰਿਸਰਚ ਅਕਾਦਮੀ ਅੰਮ੍ਰਿਤਸਰ, ਪ੍ਰਗਤੀਸ਼ੀਲ ਲੇਖਕ ਸੰਘ ਅਤੇ ਵਿਰਸਾ ਵਿਹਾਰ ਅੰਮ੍ਰਿਤਸਰ ਵੱਲੋਂ ਅੱਜ ਸਾਂਝੇ ਤੋਰ 'ਤੇ ਅੰਤਰ-ਰਾਸ਼ਟਰੀ ਮਾਂ-ਬੋਲੀ ਦਿਵਸ ਨੂੰ ਸਮਰਪਿਤ ਵਿਸ਼ਾਲ ਸੈਮੀਨਾਰ ਕਰਵਾਇਆ ਗਿਆ। ...

ਸਰਕਾਰੀ ਸੈਕੰਡਰੀ ਸਕੂਲ ਸੱਦਾ ਸਿੰਘ ਵਾਲਾ ਨੇ ਮਨਾਇਆ ਅੰਤਰਰਾਸਟਰੀ ਮਾਂ ਬੋਲੀ ਦਿਹਾੜਾ

ਅੰਤਰਰਾਸ਼ਟਰੀ ਮਾਂ ਬੋਲੀ ਦਿਹਾੜੇ ਤੇ ਸਰਕਾਰੀ ਸੈਕੰਡਰੀ ਸਕੂਲ ਸੱਦਾ ਸਿੰਘ ਵਾਲਾ ਵਿਖੇ ਪ੍ਰਿੰਸੀਪਲ ਸ.ਸੁਰਮੁੱਖ ਸਿੰਘ ਦੀ ਰਹਿਨੁਮਾਈ ਅਤੇ ਮੈਡਮ ਰਾਜਵਿੰਦਰ ਕੌਰ ਲੈਕਚਰਾਰ ਅੰਗਰੇਜ਼ੀ ਦੀ ਦੇਖਰੇਖ ਹੇਠ ਇੱਕ ਸਾਦਾ ਤੇ ਪ੍ਰਭਾਵਸ਼ਾਲੀ ਸਮਾਗਮ ਕਰਵਾਇਆ ਗਿਆ। ...