ईश्वर अल्लाह तेरो नाम...! महात्मा गांधी की शहादत से दो दिन पहले।

हे राम !

कहते है कि ये महात्मा गांधी के अंतिम शब्द थे और कुछ हिन्दुत्व वादी इन्हीं के आधार पर मन्दिर मस्जिद को लेकर अपनी साज़िश रचते है।

 

महात्मा गांधी ने शहादत से दो दिन पहले अपनी व्यस्त दिनचर्या में क्या किया था उसकी तफसील