पाकिस्तान के प्रधानमन्त्री इमरान खान और सिद्धू साहब की रहस्यमय समानता !

पंजाब दो हिस्सों में बटा हुआ है और दोनों ओर के पंजाबी दिलखुश तो है ही साथ भी प्रत्येक हलचल तथा घटनाओं के प्रति सचेत भी रहते है।

3 साल पुरानी इमरान खान की तब्दीली हकूमत का विश्लेषण वहां की जनता ने शुरू कर दिया है लेकिन इस बार आइने के दूसरी ओर नवजोत सिंह सिद्धू को दिखाया जा रहा। बेशक यह ऐतिहासिक तथ्य है या नहीं लेकिन निसंदेह अर्थपूर्ण तो है ही।

अहले हिंदुस्तान में लगभग प्रत्येक बीस कोस के बाद पहनावा, खाना , बोली या कहे तो संस्कृति बदल जाती हैं जिसके पीछे प्राकृतिक/मौसमी कारणों के अतिरिक्त ऐतिहासिक हालात भी होते है, उदाहरणार्थ भारतीय पंजाब में मर्दों द्वारा सलवार कमीज़ पहनने का चलन नहीं है जबकि पाकिस्तानी पंजाब में यह मरदाना लिबास समझा जाता है और काफी पहले से ही पेशावर के आसपास के इलाकों में पहना जाता रहा है।

इसका सन्दर्भ इसलिए देना जरूरी है कि वहां के कई तज्जियाकारो ने सवाल उठाया है कि इमरान खान ने तमाम जिंदगी विदेशों में सूट बुट में गुजारी है लेकिन अब किसी भी विदेशी दौरे के समय या विदेशी नेता से मिलने के समय सलवार कमीज़ क्यों पहनता है ?

इसी संदर्भ को आगे बढ़ाते  हुए वो खान साहब की तुलना नवजोत सिंह सिद्धू से करते हैं क्योंकि सिद्धू साहब भी अक्सर सलवार कमीज़ पहनते है और उनके अनुसार यह उनका प्रिय परिधान है जो उनके संस्कारों में बसा हुआ है। जबकि भारतीय पंजाब में सलवार कमीज़ आमतौर पर मर्दों द्वारा नहीं पहनी जाती

इसी के साथ सलवार कमीज़ पहनने का कारण भी बताया जा रहा है।

सलवार पहनने का इतिहास यह बताया गया है कि जब सिखो ने जुल्मियों के विरूद्ध मोर्चा फतेह करना शुरू किया तो हरि सिंह नलवा ने अपनी फौज के लिए कुछ नियम निर्धारित किए थे जिनमे प्रमुख था कि

किसी भी औरत, बच्चे, पशु या निहत्थे पर वार नहीं किया जा सकता । इस स्थिति में फुट सोलजर्स को कई बार दिक्कत हो सकती थी कि वो महिला पुरुष का अंतर करने में भूल ना करने लगे।

इसका उपाय निकाला गया कि कपड़ों से पहचान पक्की की जाए और हुक्म जारी हुआ कि जिसने सलवार पहनी हो, उसे बख़्श दिया जाए। जब यह जानकारी अताताईओ को मिली तो उन्होंने अपने पहनने वाले कपड़े बदलकर "सलवार" पहननी शुरू कर दी।

इसी किस्से का मज़ाक बनाकर बताया जा रहा है कि जिस प्रकार इमरान खान के दोस्त ए खास नवजोत सिंह सिद्धू की आदत मिरासयों की तरह लंबी लंबी बाते करने और राज को अस्थिर करने की है वैसी ही इमरान खान की है।

अंदर से दोनों को डर लगता है तभी रिवायत के उलट सिद्धू भारत में सलवार कमीज़ पहनता है और इमरान खान भी सलवार कमीज़ पहनकर जाता हैं क्योंकि दोनों को लगता है कि कोई हक आवाज़ वाला महाराजा रणजीत सिंह जैसा पंजाबी सामने आ भी गया तो सलवार पहनी देखकर छोड़ देगा।

बेशक इसके पीछे का कारण कुछ भी हो लेकिन भारत और पाकिस्तान की राजनीति, पहचान और जुड़ाव ऐसे हैं जो अक्सर उदाहरण के लिए ही सही सामने आते रहते है तथा कभी अलग नहीं हो सकते।

भारतीय पंजाब को कश्मीर बनाने की साज़िश या किसी अनहोनी की आशंका !

अचानक लिए गए निर्णय के अनुसार भारतीय पंजाब के सीमा से 50 किमी रेडियस में बीएसएफ को अतिरिक्त शक्तियां देते हुए अधिकार दिए गए हैं जिसके अनुसार बीएसएफ कर्मी/अधिकारी किसी को भी गिरफ्तार कर सकते है, तलाशी ले सकते हैं और जांच पड़ताल कर सकते है। ...

कनाडा और भारत दुनियां के दो ऐसे देश है जहां बहुत सी सभ्यताएं बसती हैं और साथ साथ चलती हैं दूसरी समानता यह है कि पंजाबियों ने अपने खान पान से सबको प्रभावित किया है।

भारत बेशक विभिन्न सभ्यताओं और संस्कृतियों का संगम है लेकिन इसमें कोई संदेह नहीं होना चाहिए कि भारत ( विशेषकर गौ पट्टी क्षेत्र ) को खाने की विविधता और स्वाद पंजाब ने ही दिया है। ...

विश्व राजनीति के बदलते समूह और दक्षिण एशिया में भारत की स्थिति जिसे असफल विदेशनीति के कारण बैकफुट पर आना पड़ रहा है।

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान की सऊदी अरब यात्रा से जिओ पॉलिटिक्स में सम्भावित बदलाव। ...

पाकिस्तान के साथ साथ दक्षिण एशिया में धर्मांध राजनीतिक दलों के कारण अराजकता फैलने का अंदेशा।।

पाकिस्तान के आंतरिक हालात बिगड़ने की आशंका से सोशल मीडिया के सभी प्लेटफॉर्म बन्द कर दिए गए थे। ...

इमरान ताहिर ने खोला राज़, कैसी थी धोनी के साथ पहली मुलाकात?

दक्षिण अफ्रीकी टीम के पूर्व दिग्गज स्पिनर और आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलने वाले इमरान ताहिर ने भारतीय क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी के साथ अपनी पहली मुलाकात का किस्सा बयान किया है। ...

ਤੇ ਉਹ ਮਿਲ ਕੇ ਵੀ ਨਹੀਂ ਰੋਕ ਪਾਏੇ, ਸਿੱਧੂ ਦੇ ਸਿਕਸਰ ਨੂੰ !!! (ਵਿਅੰਗ)

ਚੂੰਢੀਮਾਰਾਂ ਅਨੁਸਾਰ, ਸਿੱਧੂ ਤੇ ਬਾਜਵਾ ਦੀ ਜੱਫੀ 'ਚੋਂ ਬਾਹਰ ਨਿਕਲੇ ਕੇ ਆਏ ਕਰਤਾਰਪੁਰ ਲਾਂਘੇ ਦੇ ਪ੍ਰੋਜੈਕਟ ਨੂੰ ਸਿਰੇ ਚੜਨੋ ਰੋਕਣ ਅਤੇ ਇਸਦੇ ਰਾਹ ਵਿੱਚ ਕੰਡੇ ਵਿਛਾਉਣ ਵਿੱਚ ਨਾ ਹੀ ਅਕਾਲੀ-ਭਾਜਪਾਈਆਂ ਨੇ ਕੋਈ ਕਸਰ ਛੱਡੀ ਤੇ ਨਾ ਹੀ ਕੈਪਟਨ ਦੀ ਕਾਂਗਰਸ ਸਰਕਾਰ ਨੇ। ...

ਲਉ ਜੀ ਇਮਰਾਨ ਖਾਨ ਸਮਝਣ ਲੱਗੇ ਸਿੱਧੂ ਨੂੰ ਆਪਣਾ ਸਿੱਧੂ (ਨਿਊਜ਼ਨੰਬਰ ਖ਼ਾਸ ਖਬਰ)

ਬੀਤੇ ਦਿਨ ਭਾਰਤ ਅਤੇ ਪਾਕਿਸਤਾਨ ਨੇ ਇਤਿਹਾਸਕ ਕਾਰਜ ਕਰਦਿਆਂ ਸਿੱਖ ਸੰਗਤਾਂ ਦੇ ਲਈ ਪਾਕਿਸਤਾਨ ਵਿੱਚ ਸਥਿੱਤ ਸ੍ਰੀ ਗੁਰੂ ਨਾਨਕ ਦੇਵ ਜੀ ਦੇ ਨਾਲ ਵਿਸ਼ੇਸ਼ ਸਬੰਧ ਰੱਖਦੇ ਕਰਤਾਰਪੁਰ ਸਾਹਿਬ ਅਤੇ ਭਾਰਤ ਨੂੰ ਜੋੜਨ ਵਾਲੇ ਕਰਤਾਰਪੁਰ ਸਾਹਿਬ ਦੇ ਲਾਂਗੇ ਦਾ ਰਸਮੀ ਤੌਰ ਤੇ ਉਦਘਾਟਨ ਕਰ ਦਿੱਤਾ ਹੈ। ...

ਕਦੀ ਨਵਜੋਤ ਸਿੰਘ ਸਿੱਧੂ ਦੇ ਜੀ ਦਾ ਜੰਜਾਲ ਨਾ ਬਣ ਜਾਵੇ ਇਮਰਾਨ ਖਾਨ ਦੀ ਯਾਰੀ (ਨਿਊਜ਼ਨੰਬਰ ਖ਼ਾਸ ਖਬਰ)

ਇਮਰਾਨ ਖਾਨ ਦੇ ਪਾਕਸਿਤਾਨ ਦੇ ਪ੍ਰਧਾਨ ਮੰਤਰੀ ਬਣਨ ਵੇਲੇ ਇਮਰਾਨ ਖਾਨ ਨੇ ਆਪਣੇ ਸਹੁੰ ਚੁੱਕ ਸਮਾਗਮ ਤੇ ਆਪਣੇ ਭਾਰਤੀ ਕ੍ਰਿਕਟਰ ਦੋਸਤਾਂ ਨੂੰ ਸੱਦਾ ਦਿੱਤਾ ਸੀ ਜਿੰਨਾ ਵਿੱਚ ਸੁਨੀਲ ਗਵਾਸਕਰ,ਕਪਿਲ ਦੇਵ, ਸਚਿਨ ਤੇਂਦੁਲਕਰ ਅਤੇ ਨਵਜੋਤ ਸਿੰਘ ਸਿੱਧੂ ਸ਼ਾਮਿਲ ਸਨl ਭਾਰਤ ਅਤੇ ਪਾਕਸਿਤਾਨ ਵਿਚਲੇ ਸੰਬੰਧਾਂ ਨੂੰ ਦੇਖਦੇ ਹੋਏ ਸਿਵਾਏ ਨਵਜੋਤ ਸਿੰਘ ਸਿੱਧੂ ਦੇ ਕਿਸੇ ਕ੍ਰਿਕਟਰ ਨੇ ਇਮਰਾਨ ਖਾਨ ਦੇ ਸਹੁੰ ਚੁੱਕ ਸਮਾਗਮ ਵਿੱਚ ਜਾਣ ਦੀ ਹਾਮੀ ਨਹੀਂ ਭਰੀ l ...