आखिर अब गेंदबाज क्यों नहीं करते 155+ किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी, शोएब अख्तर ने दिया बड़ा बयान

पाकिस्तानी टीम के पूर्व तूफानी गेंदबाज शोएब अख्तर ने मौजूदा समय में तेज गेंदबाजों को लेकर चिंता ज़ाहिर की है। अपने समय में 150 केएम प्रति घंटे की रफ़्तार से गेंदबाजी करने वाले अख्तर ने कहा कि इस समय विश्व क्रिकेट जगत में कुछ ही असल गेंदबाज बचे हैं, जो तूफानी गति से गेंद फेंकते हैं। उनका मानना है कि आज के समय में गेंदबाज उतनी तेजी से गेंदबाजी नहीं करते हैं, जितनी उनके समय होती थी, क्योंकि खेल के नियम और कठोरता उन्हें वे मौका नहीं देती।

अख्तर ने कहा, "दस साल पहले, गेंदबाज 155 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करते थे और अब वह अचानक से 135 किलोमीट प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करने लगे। अब हमारे पास कुछ ही असल गेंदबाज बचे हैं।" उन्होंने आगे कहा, "क्रिकेट के नियम आपको तेज फेंकने की इजाजत नहीं देते हैं, दो नई गेंदें, कई ज्यादा पाबंदियां, ज्यादा क्रिकेट, ज्यादा टी-20 लीग, ज्यादा पैसा, ज्यादा टीवी राइट्स। खिलाड़ी अब चतुर हो रहे हैं और उनका पैसे पर ज्यादा ध्यान है। वह अपना करियर बचाना चाहते हैं और अपने पैर भी और 10 साल के लिए खेलना चाहते हैं।"