कोरोना को हराने वॉरियर्स बने 1972 लोग करेंगे मिशन फतेह (न्यूज़नंबर खास खबर)

Last Updated: Jun 29 2020 15:10
Reading time: 1 min, 47 secs

पंजाब सरकार की तरफ से लोगों को कोरोना महामारी के बारे जागरूक करने के लिए ‘मिशन फतेह’ के 27 जून से 5 जुलाई तक चलाए जा रहे दूसरे दौर को ज़िला निवासियों की तरफ से प्रोत्साहन मिल रहा है। डिप्टी कमिश्नर श्रीमती दीप्ति उप्पल ने बताया कि जिले में कोविड -19 से बचाव के लिए और सुरक्षा संबंधित जरूरी उपायों के बारे में ज़मीनी गतिविधियों के तौर पर इस मुहिम को अलग-अलग विभागों की तरफ से पूरा किया जा रहा है। 27 जून को स्थानीय निकाय विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों की तरफ से जन प्रतिनिधियों की मदद से शहरी क्षेत्रों में घर-घर जा कर लोगों को जागरूक किया गया है। इसी तरह ग्रामीण विकास पर पंचायत विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों की तरफ से गांवों के सरपंचों और पंचों की सहायता से ग्रामीण क्षेत्र में जागरूकता मुहिम चलाई गई।

डीसी बताती हैं कि 30 जून को उच्च शिक्षा विभाग, एक जुलाई को स्कूल शिक्षा विभाग, दो जुलाई को सामाजिक सुरक्षा स्त्री और बाल विकास विभाग, तीन जुलाई को सेहत और परिवार भलाई विभाग, चार जुलाई खेल और युवक सेवाओं विभाग और पांच जुलाई को सहकारिता विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों की तरफ से लोगों को घर-घर जा कर पंजाब सरकार और सेहत विभाग की हिदायतें से अवगत करवाया जाएगा। हर विभाग की तरफ से हर 15 दिनों बाद यह जागरूकता गतिविधियां की जाएंगी। इस मुहिम के अंतर्गत जिले के विभिन्न ग्रामीण और शहरी इलाकों में लोगों को कोविड-19 से बचने के लिए जरूरी सावधानियों के प्रति खबरदार किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि पंजाब सरकार की तरफ से ‘कोवा’ ऐप के द्वारा मिशन फतेह वारियर्स का चयन हो रह है। उन्होंने ज़िला निवासियों से अपील की कि वह इस मुकाबले में भाग लेने के लिए ‘कोवा ऐप अपने मोबाइल में डाउनलोड करके खुद को रजिस्टर्ड करें। उन्होंने बताया कि अब तक जिले के 1972 लोग इस ऐप पर मिशन फतेह वारियर्स के तौर पर जुड़ चुके हैं, जोकि आगे लोगों को इस बीमारी से बचाव की सावधानियों के बारे में जागरूक करने की सेवा निभा रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस मुकाबले में जिला कपूरथला का एक व्यक्ति सिल्वर सर्टिफिकेट विजेता और 9 ब्राउंज सर्टिफिकेट विजेता बन चुके हैं।