Loading the player...

आजादी के बाद के भारत के इतिहास में 1991 के साल को बेहद अहम माना जाता है। आरक्षण पर मंडल कमिशन की रिपोर्ट हो या इराक पर अमेरिका का हमला या फिर लुढ़कती अर्थव्यवस्था, यह साल बेहद अहम था। पूरे तीन दशक बाद 2020 में फिर से कुछ वैसा ही घटनाक्रम होता दिख रहा है। आज़ादी के बाद भारत में इस तरह का आर्थिक संकट इससे पहले 1991 के दौरान आया था. हालांकि 2008 में आई वैश्विक मंदी की वजह से भी भारत की अर्थव्यवस्था पर आंशिक रूप से प्रभाव पड़ा था

Last Updated: Sep 15 2020 16:27
Reading time: 0 mins, 27 secs

आजादी के बाद के भारत के इतिहास में 1991 के साल को बेहद अहम माना जाता है। आरक्षण पर मंडल कमिशन की रिपोर्ट हो या इराक पर अमेरिका का हमला या फिर लुढ़कती अर्थव्यवस्था, यह साल बेहद अहम था। पूरे तीन दशक बाद 2020 में फिर से कुछ वैसा ही घटनाक्रम होता दिख रहा है। आज़ादी के बाद भारत में इस तरह का आर्थिक संकट इससे पहले 1991 के दौरान आया था. हालांकि 2008 में आई वैश्विक मंदी की वजह से भी भारत की अर्थव्यवस्था पर आंशिक रूप से प्रभाव पड़ा था