गूगल किसी की भी निजी सूचना को तीसरे पक्ष को नहीं बेचेगी: गूगल सीईओ

Last Updated: May 10 2019 15:25
Reading time: 1 min, 26 secs

गूगल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) सुंदर पिचाई ने सोशल मीडिया कंपनियों द्वारा यूजर्स की निजी जानकारियों के दुरुपयोग पर उठ रही चिंताओं के मद्देनजर कहा कि उनकी कंपनी कभी भी अपने यूजर्स की निजी जानकारियां तीसरे पक्ष को नहीं बेचेगी। 

उन्होंने कहा, 'मैं मानता हूं कि गोपनीयता हमारे समय के सबसे महत्वपूर्ण विषयों में से एक है। आज लोगों की इस बारे में यह चिंता सही है कि उनकी सूचनाओं का कैसे इस्तेमाल किया जा रहा है और उसे किन लोगों से साझा किया जा रहा है, अत: वे सभी अपने तरीके से गोपनीयता को परिभाषित कर रहे हैं।'
 
पिचाई ने कहा, 'गोपनीयता को वास्तविक बनाने के लिए हम आपको आपकी सूचनाओं के संबंध में स्पष्ट और अर्थपूर्ण विकल्प देते हैं। गूगल दो नीतियों के बारे में स्पष्ट है, पहला कि गूगल कभी निजी सूचनाओं को किसी तीसरे पक्ष को नहीं बेचेगी और दूसरा आपको यह तय करने को मिलता है कि आपकी सूचनाओं का कैसे इस्तेमाल किया जाता है।'

उन्होंने कहा, 'एक साझा डिवाइस से इंटरनेट इस्तेमाल करने वाले परिवार के लिये गोपनीयता का मतलब एक-दूसरे से गोपनीयता भी हो सकती है। क्रेडिट कार्ड से भुगतान स्वीकार करना शुरू करने की इच्छा रखने वाले छोटे कारोबारियों के लिये गोपनीयता का मतलब ग्राहकों की जानकारी सुरक्षित रखना हो सकता है। सेल्फी डालने वाले युवाओं के लिये गोपनीयता का मतलब भविष्य में तस्वीरें मिटाने से हो सकता है।'

उन्होंने माना कि गोपनीयता व्यक्तिगत है। इससे यह कंपनियों के लिये अधिक महत्वपूर्ण बना जाता है कि वह लोगों को उनसे संबंधित सूचनाओं के इस्तेमाल के बारे में अधिक स्पष्ट निजी विकल्प दें। उन्होंने कहा कि कानून बनाने से गूगल जैसी कंपनियों को दुनियाभर में अधिक लोगों के लिये गोपनीयता संरक्षण सुनिश्चित करने की दिशा में काम करने में मदद मिलेगी।