टेस्ट क्रिकेट को बचाने के लिए डे-नाइट फॉर्मेट जरूरी: केविन पीटरसन

Rishabh Sharma
Last Updated: Jun 13 2018 18:29

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन ने मंगलवार को कहा कि टेस्ट क्रिकेट को बचाने के लिए डे-नाइट फॉर्मेट जरूरी है। एमएके पटौदी लेक्चर में संबोधित करने वाले पहले विदेशी खिलाड़ी पीटरसन ने कहा, "यदि हम चाहते हैं कि क्रिकेटर पांच दिवसीय क्रिकेट खेले तो हमें उन्हें अच्छे पैसे देने होंगे। हम उन्हें कैसे दें। इसके लिए टेस्ट क्रिकेट में बदलाव की जरूरत है। पांचों दिन रोमांच हो।"

उन्होंने कहा, "डे-नाइट के मैचों ने दिखाया है कि कैसे उतार-चढ़ाव आ सकते हैं। आईपीएल उस समय नहीं खेला जाता जब उसके धुर प्रशंसक काम पर रहते हैं। टेस्ट क्रिकेट में भी ऐसा ही होना चाहिए।" उन्होंने कहा कि टेस्ट क्रिकेट की मार्केटिंग बेहद जरूरी है। पीटरसन ने कहा कि सीमित ओवरों के क्रिकेट की बजाय सफेद जर्सी में खेलने के दौरान अनमोल यादें बनती हैं। उन्होंने कहा, "हर खिलाड़ी कई वनडे मैच खेलता है, लेकिन जब हम उनकी असाधारण उपलब्धियों की बात करते हैं तो टेस्ट क्रिकेट का प्रदर्शन ही ध्यान में आता है।" बता दें कि पीटरसन ने अपने संबोधन में सचिन तेंदुलकर, शेन वार्न, मैल्कम मार्शल, स्टीव वॉ, रिचर्ड हैडली, कपिल देव और महान लेकिन विवादास्पद दिवंगत हैंसी क्रोनिए को दिग्गजों की श्रेणी में रखा।