अपनी सारी प्राॅपटी सेवादार के नाम कर गए भय्यूजी महाराज

Bhawna Sharma
Last Updated: Jun 13 2018 13:23

भय्यूजी महाराज ने जिंदगी के तनाव से परेशान होकर आत्महत्या कर ली। उनके एक पन्‍ने के सुसाइड नोट में लिखा था कि वो जिंदगी के तनाव से परेशान हो चुके हैं। मेरी मौत के लिए कोई जिम्‍मेदार नहीं है। तो वहीं दूसरे पन्ने में अपने आश्रम, प्रॉपर्टी और वित्‍तीय शक्‍तियों की सारी जिम्‍मेदारी अपने वफादार सेवादार विनायक को दी है। उन्होंने सुसाइड में लिखा कि मैं विनायक पर ट्रस्‍ट करता हूं इसलिए उसे ये सारी जिम्‍मेदारी दे कर जा रहा हूं।

मिली जानकारी के मुताबिक आज दोपहर 3 बजे उन्‍‍‍‍‍हीं के आश्रम सूर्योदय में भय्यूजी महाराज का अंतिम संस्कार किया जाएगा। अंतिम संस्‍कार से पहले भय्यूजी महाराज का पार्थिव शरीर उनके इंदौर स्थित आश्रम में रखा गया है। भय्यूजी महाराज को मुखाग्‍न‍ि उनकी बेटी कुहू देगी। बता दें मंगलवार को आध्‍यात्मिक गुरु भय्यूजी महाराज ने अपने आवास पर खुद को गोली मारकर आत्‍महत्‍या कर ली थी। जिसके बाद उन्‍हें बॉम्‍बे हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां उन्‍हें मृत घोषित कर दिया गया।