स्मार्टफोन का अत्यधिक उपयोग करते हैं तो हो जाये सावधान!!!

Tarun Nayyar
Last Updated: Jun 12 2018 12:54

स्मार्टफोन का अत्यधिक इस्तेमाल भी नुकसानदायक है। जो लोग फ़ोन का अधिक इस्तेमाल करते है, वो गतिविधियों के बीच में भी फोन में खो जाते हैं और अपना ध्यान भी केंद्रित नहीं रख पाते। इस तरह की लत हमें मानसिक रूप से थका देती है और आराम नहीं करने देती।

हार्ट केयर फाउंडेशन (एचसीएफआई) के अध्यक्ष डॉ. के. के. अग्रवाल ने कहा, "हमारे फोन और कंप्यूटर पर आने वाले नोटिफिकेशन, कंपन और अन्य अलर्ट हमें लगातार स्क्रीन की ओर देखने के लिए मजबूर करते हैं। हम लगातार उस गतिविधि की तलाश करते हैं और उसकी अनुपस्थिति में बेचैन, उत्तेजित और अकेलापन महसूस होता है।"

लगभग 30 प्रतिशत मोबाइल उपयोगकर्ताओं में फैंटम रिंगिंग की समस्या होती है। यानी ऐसा महसूस होता है कि फोन बज रहा है और बार बार उसे चेक करते हैं, जबकि ऐसा सच में होता नहीं है।

अध्ययन के मुताबिक, सोशल मीडिया की लत सामाजिक जीवन पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकती है और स्मार्टफोन ही झगड़े का कारण भी बनता है। मोबाइल अधिक उपयोग करने से बच्चे अपने काम समय पर पूरा नहीं करते और रात को देरी से सोने के कारण सुबह भी देरी से उठते है और स्कूल या काम पर जाने के लिए समय पर तैयार नहीं होते हैं।

डॉ. अग्रवाल ने बताया, "गैजेट्स के माध्यम से जानकारी प्राप्त करने के कारण मस्तिष्क के ग्रे मैटर में कमी आती है, जोकि संज्ञान और भावनात्मक नियंत्रण के लिए जिम्मेदार होता है। सभी लोग इन उपकरणों के माध्यम से जानकारी लेने में निर्भर हो गए हैं जो कि बिल्कुल ग़लत है मोबाइल का उपयोग केवल जरूरी बात करने के लिए करें। दिन में तीन घंटे से अधिक समय तक कंप्यूटर का उपयोग ना करें।"