पाकिस्तान: एक और शीर्ष नेता ने फौज को लताड़ा, लगाए ढेरों आरोप

Hemant
Last Updated: May 17 2018 20:03

पाकिस्तान ने फौज और सिविल सरकार के बीच तनावएक बार फिर खुलकर सामने आया है। पूर्व पीएम नवाज शरीफ के 26-11 हमले में पाक की भूमिका स्वीकार करने के बाद पाकिस्तान मुस्लिम लीग के वरिष्ठ नेता मखदूम जावेद हाशमी ने इस पर सहमति जताते हुए अपने मुल्क में फौज की साजिश का भी खुलासा किया। हाशमी के इस खुलासे से साफ हो गया है कि पाकिस्तानी फौज किस तरह सिविल हुक्मरानों को कठपुतली की तरह इस्तेमाल करती है। पाकिस्तान सरकार में तीन बार मंत्री रहे और देश के वरिष्ठतम नेताओं में शुमार किए जाने वाले हाशमी के इस खुलासे ने पाकिस्तान और इसकी फौज को पूरी दुनिया के सामने एक बार फिर बेनकाब कर दिया है।