कर्नाटक चुनाव परिणाम 2018: कर्नाटक बना राहुल की राह का रोड़ा, टूट सकता है पीएम बनने का सपना

Hemant
Last Updated: May 15 2018 18:07

कर्नाटक चुनाव परिणामों ने स्पष्ट कर दिया है कि देश में अभी भी पीएम नरेंद्र मोदी का जादू बरकरार है, जबकि मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी को अभी लंबा सफर तय करना है। देश के दक्षिणी गढ़ कर्नाटक भी अब कांग्रेस की झोली से निकल चुका है। अब पंजाब, पुडुच्चेरी और मिजोरम में ही कांग्रेस की सरकार बची है जबकि बीजेपी की 21 राज्यों में सरकार होने जा रही है। कर्नाटक के चुनाव नतीजों ने देश की राजनीति की नई दिशा तय कर दी है। इसके मुताबिक साल 2019 का चुनाव शायद ही राहुल गांधी के नेतृत्व में विपक्ष लड़े। यानी 2019 में पीएम बनने का राहुल गांधी का सपना अब शायद ही कारगर हो क्योंकि एक तरफ पीएम मोदी का जादू है तो दूसरी तरफ गैर कांग्रेसी, गैर बीजेपी गठबंधन की वकालत करने वाली विपक्षी पार्टियां हैं। यानी 2019 की लड़ाई बीजेपी की अगुवाई वाली एनडीए बनाम थर्ड फ्रंट हो सकती है। बता दें कि कर्नाटक चुनाव प्रचार के दौरान राहुल गांधी ने एक चुनावी जनसभा में पूछा था कि वह क्यों नहीं देश के प्रधानमंत्री बन सकते हैं। उन्होंने कहा था कि 2019 में कांग्रेस अगर सबसे बड़ी पार्टी बनती है तो वह पीएम बन सकते हैं। पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा था कि 2019 में न तो बीजेपी सरकार बनाएगी और न ही नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बनेंगे। उन्होंने यह भी कहा था कि आपलोग मेरी बात पर हसेंगे लेकिन 2019 में बीजेपी सरकार नहीं बनाएगी। आज विपक्ष एक है, यही कारण है कि बीजेपी के लिए 2019 में मुश्किल होगी।