साड़ी के कमेंट पर सब्यासाची की सफाई, 'फेमिनिज्म पर डिबेट करना मुद्दा नहीं'

Last Updated: Feb 13 2018 18:25

फैशन डिजाइन सब्यासाची हाल ही में अपने उस कमेंट को लेकर लाइमलाइट में आ गए जिसमें उन्होंने साड़ी न पहनकर वेस्टर्न आउटफिट पहनने वाली महिलाओं पर टिप्पणी की थी। सोशल मीडिया पर कई महिलाएं उनके इस बयान का विरोध करने लगीं। मामले को बढ़ता देख सब्यासाची ने अपनी ओर से सफाई पेश की है। सब्यायाची ने कहा है कि मेरा मकसद हमारे देश की सभ्यता और संस्कृति पर टिप्पणी करना था जो अब फेमिनिज्म पर डिबेट बन गया है।

सब्यासाची ने कहा, ''क्योंकि मुझसे साड़ी को लेकर सवाल किया गया था और साड़ी महिलाएं पहनती हैं। मैं पुरूषों द्वारा पहनी जानी वाली धोती पर भी यही राय रखता हूं। मैनें महिलाओं की पसंद या नापसंद पर टिप्प्णी नहीं की कि उन्हें क्या पहनना चाहिए। ये हमेशा उनकी मर्जी होती है।'' 

सब्यासाची ने आगे कहा कि पहनावा ऐसा होना चाहिए जो आपकी जड़े से जुड़ा हो।'' इसके साथ ही आपको बता दें कि सब्यासाची ने हार्वर्ड इंडिया कॉन्फ्रेंस में बोलते समय ये भी कहा था कि धोती का पहनावा तो जैसे दम तोड़ चुका है। अपने कमेंट के बारे में बात करते हुए सब्यासाची ने साफ कर दिया है कि ये उनके व्यक्तिगत विचार हैं।