प्रसव के दौरान जमीन पर गिरने से नवजात की मौत, मां को भी जड़ा थप्पड़

Last Updated: Feb 13 2018 18:15

मेडिकल कॉलेज के कर्मचारियों की लापरवाही के कारण नवजात शिशु की मौत हो गई। इससे पहले लेबर रूम में मौजूद नर्स ने दर्द से कराह रही गर्भवती महिला को थप्पड़ भी जड़ दिया था। बस्तर के महारानी मेडिकल कालेज में एक गर्भवती महिला के साथ पैरा मेडिकल स्टाफ के मारपीट का मामला सामने आया है। प्रसव के बाद बच्चे की मौत हो गई। स्टाफ पर आरोप है कि प्रसव के दौरान बच्चा टेबल से गिर गया जिससे उसकी मौत हो गई। प्रसव सामान्य हुआ था इसके कुछ देर बाद जब महिला को होश आया तो उसने बच्चे की मौत की खबर सुनकर बवाल खड़ा कर दिया। पीडि़त परिवार के परिजनों ने जमकर हंगामा किया और जिसके बाद जांच का आश्वासन मिलने पर वह शांत हुए। 

जानकारी मुताबिक बस्तर के नेतनार इलाके की रहने वाली सन्मति नाम एक गर्भवती महिला को सोमवार रात करीब डेढ़ बजे प्रसव पीड़ा होने पर महारानी अस्पताल भर्ती कराया गया था। इस महिला को सरकारी आंगनबाड़ी केंद्र की महिला कार्यकर्ता जिन्हें मितानिन कहा जाता है लेकर अस्पताल पहुंची थीं। देर रात होने की वजह से पैरा मेडिकल स्टाफ गर्भवती महिला के साथ सहयोग नहीं कर रहा था। गर्भवती महिला को फौरन स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने को लेकर मितानिनों और पैरा मेडिकल स्टाफ के बीच नोंकझोंक इतनी बढ़ गई कि मारपीट की नौबत तक आ गई। इस बीच ड्यूटी पर तैनात एक नर्स और आया ने सन्मति को लेबर रूम में दाखिल करवाया। फिर खुद ही प्रसव कराने में जुट गईं। कुछ देर बाद उन्होंने बताया कि बच्चे की मौत हो गई है। जिसके बाद वहां हंगामा मच गया। पीडि़तों ने आरोप लगाया कि बगैर डाक्टर के पैरा मेडिकल स्टाफ ने ही डिलीवरी करा दी। यही नहीं र्द से कराह रही सन्मति ने जब आपत्ति की तो उसे नर्स ने थप्पड़ जड़ दिया था।