बैड लोन से निपटने के लिए आरबीआई ने कड़े किए नियम

Hemant
Last Updated: Feb 13 2018 16:22

भारतीय रिजर्व बैंक ने बैड लोन अथवा एनपीए से निपटने के लिए नियम कड़े कर दिए हैं। इसके साथ ही उसने कई लोन रिस्ट्रक्चरिंग प्रोग्राम्स को भी निरस्त कर दिया है। केंद्रीय बैंक ने बड़े एनपीए निपटाने के लिए समय सीमा तय कर दी है। इसके तहत बैंकों को डिफाल्ट हो चुके लोन की जानकारी आरबीआई को हर हफ्ते देनी होगी। आरबीआई ने लोन रीस्ट्रक्चरिंग स्कीम्स को निरस्त कर दिया है। इसके अलावा इन स्कीम्स को खत्म करना इसलिए भी अनिवार्य हो गया था क्योंकि इनका दुरुपयोग शुरू हो गया था। आरबीआई ने बैंकों से कहा है कि वह चुनिंदा डिफाल्टर्स का डेटा हर हफ्ते केंद्रीय बैंक के साथ साझा करें। बैंकों को निर्देश दिया गया है कि इस डेटा को हर शुक्रवार को आरबीआई के साथ साझा किया जाए।