न्यायपालिका के लिए आज काला दिन, अब हर कोई कोर्ट के फैसले पर करेगा संदेह: निकम

Hemant
Last Updated: Jan 12 2018 15:25

देश के इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के चार सिटिंग जज न्यायपालिका की खामियों की शिकायत लेकर मीडिया के सामने आए और अपनी शिकायत गिनाई। सिटिंग जजों की प्रेस कांफ्रेंस के बाद आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। वरिष्ठ वकील इसे न्यायपालिका और लोकतंत्र के लिए बड़ा खतरा बता रहा है। इस मामले पर वरिष्ठ वकील उज्जवल निकम ने सबसे कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने इस जजों के इस कदम को न्यायपालिका के लिए काला दिन बताया है। निकम ने कहा है कि जजों को अपनी शिकायतों रखने के लिए प्रेस कांफ्रेंस के अलावा कोई और रास्ता अपनाना चाहिए था।