दलितों पर हमले के विरोध में भाजपा व आरएसएस का पुतला फूंका

Mahesh Kumar
Last Updated: Jan 05 2018 19:05

महाराष्ट्र के कोरेगांव भीमा में दलित समुदाय के लोगों पर अत्याचार के विरोध में पेंडू मजदूर यूनियन पंजाब व जमीन प्राप्ति संघर्ष कमेटी के आह्वान पर पेंडू मजदूर यूनियन की जिला इकाई ने मुंडी मोड़ में प्रदर्शन किया। उन्होंने भााजपा और आरएसएस की अर्थी फूंककर जमकर नारेबाजी की। पेंडू मजदूर यूनियन के सूबा महासचिव बलविंदर सिंह भुल्लर और जिला महासचिव शेरपुर सद्दा ने कहा कि भाजपा व आरएसएस की शह पर कट्टर हिंदुओं ने साजिश के तहत दलितों को शिकार बनाया है, जिसमें एक दलित को मौत के घाट उतार दिया गया और बहुत सारे दलितों को गंभीर रूप से जख्मी किया है। यहीं नहीं, इन लोगों ने ऐसा उत्पात मचाया, जिसमें सैंकड़ों वाहनों को जला दिया गया। 

दोनें नेताओं ने इस घटना का विरोध करने वाले और दलितों की आवाज उठाने वाले दलित नेता जगदेश सिवानी और विद्यार्थी नेता उमर खालिद पर महाराष्ट्र सरकार की ओर से झूठा पर्चा दर्ज करने की कड़े शब्दों में निंदा की। यूनियन नेताओं ने कहा कि यह कोई पहला मौका नहीं है, जब दलितों पर अत्याचार किए जा रहे हैं। इससे पहले भी कई बार ऐसी घटनाएं घट चुकी हैं। मजदूर नेताओं ने कहा कि महाराष्ट्र में दलितों पर कातिलों और तोड़फोड़ करने वाले को गिरफ्तार नहीं किया जा रहा है। बल्कि घटनाओं का विरोध करने वालों को ही निशाना बनाया जा रहा है, जोकि निंदनीय है। इस दौरान यूनियन नेताओं ने केंद्र और महाराष्ट्र सरकार के ‌खिलाफ जमकर नारेबाजी की।