हथियारबंद सेना झंडा दिवस पर शहीद सैनिकों को की श्रद्धांजलि भेंट

Mahesh Kumar
Last Updated: Dec 07 2017 20:16

ज़िला स्तर का हथियारबंद सेना झंडा दिवस कैप्टन झग्गड़ सिंह वार मैमोरियल कपूरथला में मनाया जाएगा। इस मौके पर मुख्य मेहमान स्टेशन कमांडर कपूरथला ब्रिगेडियर आर. पानीकर, डिप्टी कमिश्नर और प्रधान जिला सैनिक बोर्ड कपूरथला मोहम्मद तैय्यब, एसएसपी संदीप शर्मा, जिला सैनिक बोर्ड लेफ्टिनेंट कर्नल (सेवामुक्त) उपप्रधान बलदेव सिंह, ज़िला रक्षा सेवा भलाई अधिकारी कपूरथला लेफ्टिनेंट कर्नल गुरिंदरजीत सिंह गिल के अलावा सिविल और आर्मी यूनिट के कमांडिंग अफसरों की तरफ से वार मैमोरियल में शहीद सैनिकों को फूल मालाएं भेंट की गईं। इस मौके पर फ़ौज की 13 डोगरा रेजीमेंट की टुकड़ी के बैंड ने मधुर धुनें बजाईं और गार्द ने हथियार उल्टे करके शहीदों को श्रद्धांजलि दी और मौन धारण किया है। इस मौके पर बहादुर शूरवीर अफसरों और सैनिकों, जिन्होंने जंग के दौरान शहादतें प्राप्त की, को याद किया गया। सरकारी कन्या सीनियर सैकेंडरी स्कूल घंटा घर कपूरथला की छात्राओं ने शब्द और देशभक्ति के गीत पेश किए। इस मौके पर 26 लाभा‌र्थियों को 92 हज़ार रुपये की अनुदान के चैक भेंट किए गए। इसके अलावा 14 विभागों और संस्थाओं की तरफ से पिछले साल 10 हज़ार रुपये से अधिक दान की राशि एकत्रित करने के लिए सम्मानित किया गया। इस मौके पर 'रण यौद्धे 2017' किताब भी रिलीज की गई है।

मुख्य मेहमान स्टेशन कमांडर ब्रिगेडियर आर. पानीकर ने कहा कि सैनिक जब फ़ौज में सेवा करते हैं, तो वह सिविल से कट जाते हैं और जब वह सेवामुक्त होकर अपने घर आते हैं तो हमें सभी को उनका सम्मान करना चाहिए। हर तरह की मदद के लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने भरोसा दिया कि पूर्व सैनिकों की सुविधाओं में और विस्तार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कपूरथला में एक वैटर्न सहायता केंद्र खोला गया है, जहां से कोई भी पूर्व सैनिक भारतीय फ़ौज की तरफ से उनको दी जा रही सेवाओं की जानकारी हासिल कर सकता है। उन्होंने पूर्व सैनिकों से कहा कि वह उनके लिए शुरू किए गए पोर्टल पर ऐनरोल ज़रूर करवाएं, जिससे उनको मिलती सुविधाओं में कोई तंगी न आए। डिप्टी कमिश्नर और जिला सैनिक बोर्ड के प्रधान मोहम्मद तैय्यब ने कहा कि पूर्व सैनिकों और उनके परिवारों की मदद करना हमारा सभी का फर्ज है। उन्होंने कहा कि सैनिकों, पूर्व सैनिकों और शहीदों के परिवारों की हर समस्या का हल पहल के आधार पर करें और उनको हरसंभव सहायता का भरोसा दिलाया। एसएसपी संदीप शर्मा ने कहा कि हमें फ़ौज के प्रति अपनी ज़िम्मेदारी को समझना चाहिए।