आंगनबाड़ी वर्करों ने सरकार के खिलाफ निकाली भड़ास

Mahesh Kumar
Last Updated: Oct 06 2017 13:16

3 से 6 वर्ष तक के बच्चों को प्राइमरी स्कूलों के अधीन करने के फैसले के विरोध में आंगनबाड़ी वर्करों व हेल्परों ने शालीमार बाग से रोष मार्च निकाला। जिसकी अध्यक्षता ब्लॉक अध्यक्ष सुरजीत कौर ने की। यह रोष मार्च शालीमार बाग से शुरू होकर श्री सत्यनारायण बाजार, शहीद भगत सिंह चौक, पुरानी कचहरी, सदर बाजार, जलौखाना चौक से होता हुआ वापिस शालीमार बाग पहुंचकर खत्म हुआ। इस दौरान वर्करों ने राज्य सरकार के खिलाफ जमकर भड़ास निकाली और पूरे रास्ते में सरकार की नीतियों के खिलाफ नारेबाजी की।

इस मौके पर सुरजीत कौर ने कहा कि सरकार के इस फैसले को लेकर आंगनबाड़ी वर्करों व हेल्परों में भारी रोष पाया जा रहा है। पंजाब सरकार का यह फैसला उनके हित में नहीं है। यह सरसार उनके साथ अन्याय है। यदि प्राइमरी स्कूलों में 3 से 6 वर्ष के बच्चों को लिया गया, तो आंगनबाड़ी वर्करों के पद खत्म हो जाएंगे। जिससे सीधे उनके पेट पर लात मारने की तैयारी की जा रही है। इसलिए आंगनबाड़ी वर्करों व हेल्परों ने सरकार के इस फैसले को रद्द करने की मांग की है। अगर उनकी मांगे जल्द पूरी न हुईं तो उनका संघर्ष तेज हो जाएगा। इसकी सारी जिम्मेदारी पंजाब सरकार की होगी। इस मौके पर भारी संख्या में आंगनबाड़ी वर्कर व हेल्पर मौजूद थे।