आंगनबाड़ी वर्करों ने पंजाब सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन

Mahesh Kumar
Last Updated: Sep 26 2017 14:34

आल पंजाब आंगनबाड़ी कर्मचारी यूनियन की तहसील सुल्तानपुर लोधी इकाई ने ब्लॉक प्रधान मैडम मनजीत कौर की अध्यक्षता में रोष प्रदर्शन करते हुए पंजाब सरकार का पुतला फूंका और मुख्यमंत्री अमरिन्द्र सिंह व वित्त मंत्री मनप्रीत बादल के विरुद्ध जमकर नारेबाज़ी की। इसके बाद आगनबाड़ी वर्करों ने कचहरी कांप्लेक्स में पंजाब सरकार के नाम एक ज्ञापन तहसीलदार सुल्तानपुर लोधी गुरमीत सिंह मान को सौंपा। आगंनबाड़ी वर्करों ने मौज़ूदा पंजाब सरकार को कोसते हुए कहा कि 3 से 5 वर्ष के बच्चे आंगनबाड़ी केन्द्रों में आते हैं, जिन्हें सरकार ने प्राईमरी स्कूलों में भेजने का फैसला किया है। यदि ऐसा हुआ तो आंगनबाड़ी केन्द्र खाली हो जाएंगे, जिससे आंगनबाड़ी स्टॉफ पर विपरीत प्रभाव पड़ेगा। कई सालों से केंद्र सरकार की आईसीडीएम स्कीम के अधीन आंगनबाड़ी वर्कर और हेल्पर प्री-नर्सरी शिक्षा प्रदान कर रही हैं। सरकारों ने आंगनबाड़ी केन्द्रों में आने वाले बच्चों को आज तक किताबें और यूनिफार्म नहीं दीं। अब स्कूलों में प्री-नर्सरी क्लासें शुरू करने संबंधी करोड़ों रुपये कहां से लाएंगी। इस मौके आंगनबाड़ी वर्करों को ही नर्सरी की अध्यापिका का दर्जा दिए जाने की मांग को जोरदार ढंग से उठाया गया। जानकारे के लिए बता दें कि करीब एक घंटे तक हुए इस धरना प्रदर्शन के दौरान यातायात अवरुद्ध हुआ और मुसाफिरों सहित आम लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। जिसके बाद थाना सुल्तानपुर लोधी के एसएचओ सर्बजीत सिंह ने हस्तक्षेप किया और यातायात सामान्य हुआ। इस अवसर पर ब्लॉक अध्यक्ष मंजीत कौर, सर्किल अध्यक्ष कुलविंदर कौर बूसोवाल, जसविंदर कौर डडविंडी, रणजीत कौर दीपेवाल, सुखविंदर कौर डल्ला, जतिंदर कौर परमजीतपुर, हरजिंदर कौर टिब्बा व राजिंदरर कौर आदि कार्यकर्ता उपस्थित थीं।