JNU में बीती रात हुई हिंसा को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर जारी बैठक

Last Updated: Jan 06 2020 13:31
Reading time: 1 min, 18 secs

दिल्ली स्थित जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में बीती रविवार देर शाम एक बार फिर बवाल हुआ। यहां चेहरे पर नकाब बांधे 50 गुंडो ने जेएनयू के साबरमती गर्ल्‍स होस्‍टल के अंदर छात्रों और शिक्षकों पर हमला कर दिया। इस अप्रत्याशित हमले में 18 छात्रों को गंभीर रूप से घायल हुए हैं जिनका इलाज एम्स में हो रहा है। जेएनयू में 11 छात्र लापता बताए जाते हैं।

जानकारी के अनुसार इस घटना में नकाबपोश हमलावरों ने जेएनयू छात्रसंघ की अध्यक्ष आइशी घोष को बुरी तरह घायल कर दिया। यह हमला शाम लगभग साढ़े 6 बजे हुआ। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, करीब 50 चेहरे पर नकाब डाले गुंडे जेएनयू कैंपस में घुस गए और उन्होंने छात्रों पर हमला करना शुरू कर दिया।
इन गुंडों ने जेएन परिसर में कारों को भी निशाना बनाया और होस्‍टल में भी तोड़फोड़ की। जेएनयू के प्रोफेसर अतुल सूद के अनुसार इन हमलावरों ने होस्‍टल पर पत्थरबाजी की और यूनिवर्सिटी की संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाया।  

इस मामले में गृह मंत्रालय बारीकी से नजर बनाए हुए है। गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल से बात की है। खबर के मुताबिक शाह ने बैजल से जेएनयू के कुछ प्रतिनिधियों को बुलाकर उनसे बात करने को कहा है। उधर, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर जेएनयू हिंसा को लेकर बैठक जारी है। बैठक में आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और दिल्ली सरकार के मंत्री शामिल। बताया जा रहा है कि जेएनयू साबरमती हॉस्टल के वार्डन आर मीणा ने इस्तीफा दे दिया है। दिल्ली पुलिस ने आज कार्रवाई करते हुए जेएनयू हिंसा मामले में एक एफआईआर दर्ज कर ली है।