श्रीलंकाई क्रिकेटरों से खफा शोएब अख्तर ने कहा- खिलाड़ियों को सहयोग करना चाहिए

Last Updated: Sep 12 2019 12:57
Reading time: 1 min, 1 sec

श्रीलंकाई खिलाड़ियों द्वारा पाकिस्तान दौरे पर आने से मना करने पर पूर्व पाकिस्तानी तेज गेंदबाज शोएब अख्तर बहुत निराश हैं, जिसको लेकर उन्होंने एक ट्वीट किया है। अख्तर ने लिखा, "यह काफी निराशाजनक है कि 10 श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने पाकिस्तान दौरे से अपना नाम वापस ले लिया है। पाकिस्तान ने हमेशा श्रीलंका क्रिकेट को सपोर्ट किया है। हाल ही में जब श्रीलंका में इस्टर के दिन अटैक हुआ था तो हमने अपनी अंडर 19 की टीम को वहां भेजा था और हमारी पहली इंटरनेशनल टीम थी जो अपनी मजीर् से वहां गई थी।"

उन्होंने साथ में लिखा, "और निश्चित रूप से 1996 के विश्व कप को कौन भूल सकता है जब आस्ट्रेलिया और वेस्ट इंडीज ने श्रीलंका दौरे से इनकार कर दिया था। पाकिस्तान ने कोलंबो में एक दोस्ताना मैच खेलने के लिए भारत के साथ एक संयुक्त टीम भेजी। हम श्रीलंका से पारस्परिकता की अपेक्षा करते हैं। उनका बोर्ड सहयोग कर रहा है, खिलाड़ियों को भी ऐसा करना चाहिए।"

बता दें कि लसिथ मलिंगा, एंजेलो मैथ्यूज, दिनेश चंडीमल, सुरंगा लकमल, दिमुथ करुणारत्ने, थिसारा परेरा, अकिला धनंजया, धनंजया डी सिल्वा, कुसल परेरा और निरोशन डिकवेला सहित श्रीलंका के शीर्ष खिलाड़ियों ने 27 सितंबर से शुरू होने वाले पाकिस्तान दौरे से खुद को अलग कर लिया है।