उन्नाव रेप मामला: सड़क दुर्घटना के बाद पीड़िता और वकील की हालत गंभीर, जानिए पूरा मामला

Last Updated: Jul 29 2019 12:46
Reading time: 1 min, 51 secs

बीती रविवार को हुए एक सड़क दुर्घटना में उत्तर प्रदेश के बहुचर्चित उन्नाव रेप केस की पीड़िता और वकील की हालात गंभीर बनी हुई है। जानकारी के अनुसार दोनों को इलाज के लिए लखनऊ के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती करवाया है, जहां डाक्टरों ने उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा है। वहीं इस घटना में पीड़िता की मौसी और चाची की मौत हो गई थी। जानकारी के लिए आपको बता दें कि इस रेप केस में बीजेपी के विधायक कुलदीप सेंगर मुख्य आरोपी हैं। लखनऊ जोन के एडीजी राजीव कृष्णन ने कहा, "डॉक्टरों ने मुझे बताया कि सड़क दुर्घटना में घायल हुई पीड़िता और वकील को लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर डाल दिया गया है डॉक्टरों का कहना है कि पीड़िता की कई हड्डियां टूट गई हैं। उनके सिर में चोट आई है।  इस मामले में जानकारी देते हुए एडीजी राजीव कृष्णन ने बताया कि ट्रक को जब्त कर लिया गया है। ड्राइवर को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। हालांकि, अभी तक किसी ने इस मामले में FIR दर्ज नहीं हुई है। उन्होंने कहा, "मैंने पीड़िता के परिजनों से इस मामले में FIR दर्ज करवाने के लिए कहा है।"


क्या है उन्नाव रेप मामला

बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर एक नाब़ालिग लड़की के साथ कथित तौर पर जून 2017 में बलात्कार करने का आरोप है। इस मामले में पीड़िता ने आरोप लगाया था कि कुलदीप ने अपने घर पर उस वक़्त उसके साथ बलात्कार किया था जब वो अपने एक रिश्तेदार के साथ उनके घर पर नौकरी मांगने गई थी। ये केस उस समय सामने आया जब पीड़िता की FIR पुलिस ने नहीं लिखी थी, जिसके बाद लड़की के परिवार वालों ने कोर्ट का सहारा लिया। उनका आरोप है कि विधायक और उनके साथी पुलिस में शिक़ायत नहीं करने का दबाव बनाते रहे हैं और इसी क्रम में विधायक के भाई ने तीन अप्रैल को उनके पिता से मारपीट भी की। जिसके बाद हिरासत में लड़की के पिता की मौत हो गई। आपको बता दें कि कुलदीप के ख़िलाफ़ उन्नाव के माखी थाने में बलात्कार और पॉक्सो ऐक्ट के तहत केस दर्ज किया गया था। प्रशासन ने इस मामले की जांच CBI से करवाने के आदेश दिए थे और फिर CBI ने ही कुलदीप सेंगर को गिरफ़्तार किया था।