उत्तर प्रदेश: सरकारी स्कूलों में बच्चों को बांटे गए एक ही पैर के जूते, जांच आदेश जारी

Last Updated: Jul 21 2019 14:15
Reading time: 0 mins, 57 secs

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के परिषदीय स्कूलों में बच्चों को एक ही पैर के जूते बांटे जाने का मामला सामने आया है। यहां बच्चों को जो जूते बांटे किए जा रहे हैं, उनमें अधिकतर दोनों जूते एक ही पैर के निकल रहे हैं। बताया जा रहा है कि कई बाक्स से अलग-अलग कंपनियों के जूते निकले हैं, जिनके डिजाइन में काफी फर्क है। कई बाक्स में तो एक पैर का जूता लड़की का और एक पैर का जूता लड़के का निकला है। वहीं जूतों के साइज को लेकर भी काफी गड़बड़ियां सामने आ रही हैं। ऐसे में नए जूते मिलने के बाद बच्चों को पुराने जूतों में ही स्कूल आना पड़ रहा है। इस मामले में बेसिक शिक्षा अधिकारी (BSA) अमरकांत सिंह ने बताया कि जूतों के साइज में कुछ कमियां पाई गई हैं। हम लोग अपने स्तर से इसका सत्यापन कर रहे है। बीएसए कहते हैं कि रिपोर्ट आने के बाद जूतों की सप्लाई करने वाली कंपनी के खिलाफ भुगतान की रिकवरी की जाएगी। वहीं कंपनी को ब्लैक लिस्टेड किया जाएगा। खबर के मुताबिक बेसिक शिक्षा अधिकारी ने बताया लखनऊ के स्कूलों में 1.80 लाख जूतों की सप्लाई की गई थी।