केरल में फिर से निपाह संक्रमण होने का शक, जांच के लिए भेजे सैंपल

Last Updated: Jun 03 2019 18:39
Reading time: 1 min, 14 secs

केरल में कोच्चि के निजी अस्पताल में भर्ती 23 साल के कॉलेज छात्र को निपाह संक्रमण होने का शक है, हालांकि इसकी पुष्टि के लिए पुणे स्थित राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान (एनआईवी) से रिपोर्ट मिलने का इंतजार है। राज्य की स्वास्थ्य मंत्री के के शैलजा ने कहा कि सभी एहतियाती उपाय किए गए हैं और कोच्चि के कलमस्सेरी मेडिकल कॉलेज अस्पताल में अलग वार्ड बनाए गए हैं। उन्होंने कहा कि इससे पहले भी, संदिग्ध मामले आए थे और नमूने परीक्षण को भेजे गए थे, लेकिन नतीजे नकारात्मक रहे थे। '

मंत्री ने यहां पत्रकारों से कहा, ''इस मामले में भी मरीजे के नमूनों को पुणे स्थित एनआईवी भेजा गया है और सरकार को रिपोर्ट का इंतजार है। संस्थान से रिपोर्ट मिलने पर ही पुष्टि हो सकती है कि मरीज संक्रमित है या नहीं।'' छात्र एर्नाकुलम जिले का रहने वाला है और इदुक्की जिले में स्थित थोडुपुज़ा के कॉलेज में पढ़ता है। वह हाल में शिविर के संबंध में त्रिशूर में था।

त्रिशूर की जिला चिकित्सा अधिकारी डॉ रीना के मुताबिक, छात्र सिर्फ चार दिन ही त्रिशूर में था और उसे बुखार आ रहा था। उन्होंने बताया कि उसके साथ 16 अन्य छात्र थे और उनमें से छह उससे सीधे संपर्क में थे। उन्हें निगरानी में रखा गया है। इदुक्की जिले के चिकित्सा अधिकारियों ने कहा कि थोडुपुज़ा के जिस कॉलेज में छात्र पढ़ता है उसे भी निगरानी में रखा गया है। सरकार के आंकड़ों के मुताबिक पिछले साल मई में निपाह संक्रमण से 17 लोगों की मौत हुई थी।