करण ओबेरॉय की जमानत याचिका खारिज

Last Updated: May 18 2019 13:41
Reading time: 1 min, 7 secs

महिला से रेप के मामले में गिरफ्तार टीवी एक्टर करण ओबेरॉय की जमानत याचिका खारिज हो गई है। अभिनेता की ओर से उनके वकील दिनेश तिवारी द्वारा दर्ज जमानत याचिका पर मुंबई के दिंडोशी में सत्र न्यायाधीश की अदालत में शुक्रवार को सुनवाई हुई थी। इस दौरान पीड़ित महिला के वकील के इस तर्क को अदालत ने स्वीकार किया कि आरोपी जमानत मिलने पर सबूतों के साथ छेड़छाड़ करने और पीड़िता को धमकाने की कोशिश कर सकता है।

अदालत ने अभिनेता की दलीलों को दरकिनार करते हुए माना कि उनके खिलाफ रेप मामला आधारहीन नहीं है। करण इस वक्त 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में हैं। कई मशहूर टीवी सीरियल्स और म्यूजिक बैंड का हिस्सा रहे करण पर एक महिला ने तीन साल तक शादी के नाम पर दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है। पीड़िता ने अभिनेता के खिलाफ मुंबई के अंधेरी के ओशिवारा पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज कराई थी।

पीड़िता का आरोप है कि करण ने उनके आपत्तिजक वीडियो बनाकर उन्हें बार-बार ब्लैकमेल करने की कोशिश की। अब कहा जा रहा है कि करण के वकील इस मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट में जमानत याचिका दर्ज करेंगे। इससे पहले पूजा बेदी, सुधांशु पांडे और टीवी एक्ट्रेस माहिका भी करण के सपोर्ट में उतर चुकी हैं। बता दें कि करण की गिरफ्तारी के बाद से ही उनके सपोर्ट में कई टीवी कलाकारों ने सामने आकर बयान दिए हैं।