पहली बार पोलियो की बूंद पीने से हुई बच्चे की मौत, जांच के दिए गए आदेश

Last Updated: Mar 14 2019 13:34

भारत को पोलियो मुक्त बनाने की मुहिम लगभग एक दशक से चल रही है। लेकिन इसी बीच एक ऐसा मामला सामने आया जिस से टीकाकरण अभियान पर बड़ा प्रश्नचिन्ह लग गया, आरोप ये लगाया गया है कि पोलियो की दवा पीने के बाद 9 माह की एक बच्ची की मौत हो गई। आपको बता दें कि ये मामला बांदा जिले के सम्भू नगर का है, जहां गुरुवार को डोर टू डोर अभियान के तहत पल्स पोलियो की दवा पिलाने टीम आई थी। इसी दौरान उन्होंने सूर्य कुमार शुक्ला की 9 महीने बेटी ईशिता को भी पोलियो की दवा पिलाई। परिजनों का आरोप है कि दवा पीने के बाद ईशिता की तबियत बिगड़ने लगी। वे आनन-फानन में उसे लेकर अस्पताल पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने बच्ची को मृत घोषित कर दिया। वहीं इस मामले में बांदा के डीएम एच लाल ने कहा कि, यह दुर्भाग्यपूर्ण है। यह पहला मामला है, जब पोलियो की खुराक से किसी बच्चे की मौत हुई है। उन्होंने मामले की जांच के लिए एक समिति का गठन कर दिया है। उन्होंने कहा कि जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा, उस पर कार्रवाई की जाएगी।