हिसार कोर्ट का फैसला, हत्या के दोनों मामलों में रामपाल दोषी करार

Last Updated: Oct 11 2018 13:21

सतलोक आश्रम संचालक रामपाल को हिसार कोर्ट ने हिंसा के मामले में दोषी करार दिया है। चार साल बाद हत्या के दोनों मामलों पर हिसार की विशेष अदालत ने फैसला सुनाया है। विडियो कांफ्रेंस के जरिए कोर्ट ने ये फैसला सुनाया। इस मामले में उन्हें फांसी से लेकर उम्र कैद तक की सजा हो सकती है। सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए जेल परिसर के बाहर नाका लगाकर भारी पुलिस बल और आरएएफ के जवानों को तैनात किया गया।

बता दें नवंबर 2014 में रामपाल के सतलोक आश्रम में हिंसा हुई थी। हिंसा में 6 महिलाओं और एक बच्चे की मौत हो गई थी। पुलिस रामपाल को गिरफ्तार करने पहुंची थी जिसके बाद उसके समर्थकों ने हिंसा की थी। रामपाल पर पुलिस ने नवंबर 2014 में सात केस दर्ज किए थे। इसमें देशद्रोह, हत्या, अवैध रूप से सिलेंडर रखने आदि काफी मामले हैं। रामपाल इनमें से दो केसों में बरी हो चुका है।