जम्‍मू-कश्‍मीर: आतंकियों के शव को घसीटकर ले जाने पर मानवाधिकार संगठनों ने जताई आपत्ति

Khushboo
Last Updated: Sep 14 2018 16:35

बुधवार को जम्‍मू और कश्‍मीर के उधमपुर जिले में मारे गए जैश-ए-मोहम्‍मद के तीन आतंकियों में से एक के शव को सुरक्षाबलों द्वारा रस्सियों से खींच कर ले जाने के मामले पर अब विवाद शुरू हो गया है। मानवाधिकार संगठनों ने इस मामले पर नाराजगी जताई है और इसे बर्बरतापूर्ण करार दिया है। वहीं इस पर सेना के रिटायर ब्रिगेडियर अनिल गुप्‍ता ने सेना का बचाव करते हुए कहा है कि आतंकियों के शरीर में बम बंधे होने की आशंका होती है, इसलिए ऐसा एहतियात बरतने की आवश्‍यकता होती है।

आपको बता दें कि बुधवार को सीआरपीएफ के एक जवान और फॉरेस्ट गार्ड पर आतंकियों ने हमला कर दिया था।  आतंकी हमला करके ककरियाल के जंगलों में फरार हो गए। सेना द्वारा चलाए सर्च ऑपरेशन में गुरुवार को 3 आतंकी मारे गए। आतंकियों और सेना के बीच हुई मुठभेड़ में सेना के 12 जवान भी घायल हुए हैं। घायलों में एक पुलिस अधिकारी भी शामिल हैं। पिछले 12 घंटे से चल रहा सेना का सर्च ऑपरेशन और मुठभेड़ दोपहर बाद खत्म हुई थी।