पंजाब मंडी अफसरों ने की फल और सब्ज़ी मंडियों पर छापेमारी, 10,000 रुपए का जुर्माना वसूला

Last Updated: Jul 10 2018 19:42

15 दिनों के बाद एक बार फिर पंजाब मंडी अफसरों की टीमों द्वारा 68 फल और सब्ज़ी मंडियों में तड़के अचानक छापेमारी की गई। ज्यादा पके फलों और गली-सड़ी सब्जियों को मौके पर ही नष्ट किया गया और दोषी व्यापारियों को संबंधित दोष के अंतर्गत 1000 से 10,000 रुपए तक के जुर्माने भी लगाए गए। जानकारी देते हुए 'मिशन तंदुरुस्त पंजाब' के डायरैक्टर श्री के.एस.पन्नू ने बताया कि मंगलवार की सुबह को पंजाब मंडी बोर्ड के जनरल मैनेजर के नेतृत्व वाली टीम सहित अफसरों की विभिन्न टीमों द्वारा राज्य भर की सब्ज़ी और फल मंडियों का निरीक्षण किया गया। चौंका देने वाली बात यह थी कि ग़ैर कुदरती तरीकों से पकाया गया कोई भी फल मौके पर नहीं पाया गया जबकि अधिक पके या फफूंद लगे फल ज़रूर देखे गए। 

डायरैक्टर ने कहा कि यह बहुत प्रशंसनीय बात है कि एक महीने से चल रही इस मुहिम का असर दिखना शुरू हो चुका है क्योंकि मंडियों में ग़ैर कुदरती तरीकों से फलों को पकाऐ जाने की प्रक्रिया अब कम हो गई है। मंगवार सुबह की गई इस छापेमारी का मुख्य उद्देश्य पिछले 5 सप्ताहों में की गई गतिविधियों का जायज़ा लेना था। डायरैक्टर पन्नू ने कहा, "मुझे यह बताते हुए बहुत ख़ुशी महसूस हो रही है कि पंजाब की फल मंडियां अब कैल्शियम कार्बाइड मुक्त होने की राह पर हैं।"