एक ट्वीट और बच गई 26 लड़कियों की जान, ये है पूरा मामला

Last Updated: Jul 07 2018 18:33

गोरखपुर में एक ट्रेन से 26 नाबालिग लड़कियों को जीआरपी और आरपीएफ ने रेस्क्यू किया है। इनके साथ 22 साल और 55 साल के दो पुरुष थे। मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस ने 26 लड़कियों को तब रेस्क्यू किया जब 5 जुलाई को आदर्श श्रीवास्तव नाम के शख्स ने रेल मंत्रालय और रेल मंत्री को ट्वीट करके इसकी जानकारी दी। आदर्श ने ट्वीट में बताया था कि नाबालिग लड़कियां रो रही हैं और असुरक्षित महसूस कर रही हैं। ट्वीट से जानकारी मिलने के बाद वाराणसी और लखनऊ के अधिकारियों ने कार्रवाई की।

रेलवे के प्रवक्ता के मुताबिक, ट्वीट से सोशल मीडिया पर जानकारी दिए जाने के आधे घंटे के बाद ही जांच शुरू कर दी गई। ये लड़कियां मुजफ्फरपुर-बांद्रा अवध एक्सप्रेस से नरकटियागंज से ईदगाह जा रहीं थीं। पुलिस मामले की जांच कर रही है।  लड़कियों के पैरेंट्स को सूचना दे दी गई है। 10 से 14 साल की ये लड़कियां पश्चिम चंपारण से हैं। लड़कियों के साथ मौजूद पुरुषों को हिरासत में ले लिया गया है।