आयुष्मान भारत योजना को बेहतर बनाने के लिए अब लोगों को दी जाएगी ट्रेनिंग

Last Updated: Jun 20 2019 15:03
Reading time: 0 mins, 54 secs

देश में गरीबों को बेहतर चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए शुरू की गई आयुष्मान भारत योजना को लोगों तक पहुंचाने के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (एनएचए) और आईसीआईसीआई फाउंडेशन ने हाथ मिलाया है। दोनों संगठनों ने जरूरतमंदों तक इस योजना का लाभ पहुंचाने के लिए राज्य एवं जिला स्तर पर तथा प्रधानमंत्री आरोग्य मित्रों को प्रशिक्षित करने के लिए समझौता किया है।

इस योजना का मुख्य लक्ष्य राज्य एवं जिला स्तर पर चिकित्सा कर्मियों को कुशल बनाना है। इस भागीदारी के तहत एक साल में 15 हजार से अधिक राज्य कर्मियों तथा आरोग्य मित्रों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। एनएचए के एक अधिकारी ने कहा कि प्रशिक्षण के बाद प्रशिक्षित कर्मी लाभार्थियों को बेहतर तरीके से योजना समझने में मदद करेंगे। आईसीआईसीआई एकडमी फोर स्किल्स अपने 20 केंद्रों पर प्रशिक्षण देगी।

आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के मुख्य कार्यकारी अधिकारी इंदु भूषण ने इस भागीदारी के बारे में कहा कि एनएचए स्वास्थ्य सेवाओं को लोगों तक बेहतर तरीके से पहुंचाने तथा लाभार्थियों को निर्बाध अनुभव प्रदान करने की निजी संस्थानों की विशेषज्ञता का लाभ उठाने के लिए उनके साथ भागीदारी कर रहा है।