फैनी चक्रवात में तबाह हुआ घर, अब शौचालय में जिंदगी गुजारने को मजबूर हुआ परिवार

Last Updated: May 18 2019 19:20
Reading time: 1 min, 14 secs

ओडिशा के लोगों पर फैनी चक्रवात कहर बनकर टूटा है। सैकड़ों लोगों ने अपना घर खो दिया है और कई आज भी अमानवीय परिस्थितियों का सामना कर रहे हैं। ऐसा ही एक मामला राज्य के केंद्रपारा जिले से सामने आया है। यहां का एक दलित परिवार शौचालय में अपनी जिंदगी गुजारने को मजबूर है। फैनी तूफान ने इनके कच्चे घर को तबाह कर दिया लेकिन स्वच्छ भारत अभियान के तहत बना उनका पक्का शौचालय अब इनकी जिंदगी का आधार है।

रघुदेईपुर गांव निवासी खिरोड जेना (58) एक भूमिहीन दैनिक मजदूर है। वह 7x6 के शौचालय में अपनी पत्नी और दो पुत्रियों के साथ रह रहा है। जेना ने कहा, ‘‘चक्रवात ने मेरा मकान नष्ट कर दिया, लेकिन पक्का शौचालय बच गया था। मेरा और कोई ठिकाना नहीं है। मुझे दो वर्ष पहले जो शौचालय आवंटित हुआ था वह अब मेरा आश्रय बन गया है। मुझे नहीं पता कि हम यहां कब तक रहेंगे।’’

उनका कहना है कि दोबारा घर बनाने के लिए उसके पास कोई संसाधन भी नहीं है। जेना ने कहा, ‘‘जब तक तूफान बहाली अनुदान मुझे नहीं मिल जाता तब तक यह शौचालय ही मेरा घर रहेगा। यहां रहने की वजह से हमें शौच के लिए बाहर ही जाना पड़ता है।’’

जेना ने बताया, ‘‘मैंने प्रधानमंत्री आवास योजना और बीजू पक्का घर योजना के तहत आवास के लिए आवेदन किया था, लेकिन मेरा आवेदन निरस्त कर दिया गया। यदि सरकार की मदद से मेरा कच्चा घर पक्का हो गया होता तो शायद तूफान की तबाही से हम बच जाते।’’