गर्मियों में कई समस्याओं का समाधान है 'काला नमक'

Last Updated: May 17 2019 18:03
Reading time: 1 min, 18 secs

गर्मी का मौसम यानी ढेर सारी स्वास्थ्य समस्याएं। ऐसे में खूब सारा पानी पीने की सलाह दी जाती है लेकिन गर्मियों में कई स्वास्थ्य समस्याओं का समाधान 'काला नमक' भी कर देता हैं। अनेक पोषक तत्वों जैसे सोडियम क्लोराइड, सोडियम सल्फेट, सोडियम बाइसल्फेट, सोडियम बाइसल्फाइट, आयरन सल्फाइड, सोडियम सल्फाइड और आखिरी में हाइड्रोजन सल्फाइड से भरपूर काले नमक के फायदे। 

 
भारत में ज्यादातर गर्मियों में जो भी पेय तैयार किए जाते हैं, उनमें एक चीज हमेशा इस्तेमाल की जाती है, वो है काला नमक। गर्मियों में बनने वाले ज्यादातर पेय पदार्थों में काले नमक का इस्तेमाल होता है। रायता, आम पन्ना, जलजीरा या नींबूपानी इन सबमें काला नमक का विशेष तौर पर इस्तेमाल किया जाता है। 

काला नमक एक ठंडा नमक है, इसीलिए यह आयुर्वेदिक दवाओं और उपचार में एक महत्वपूर्ण सामग्री है। कहा जाता है कि यह नमक चिकित्सीय लाभ से भरा हुआ है। काला नमक उन लोगों के लिए अच्छा है जो पाचन संबंधी समस्याओं से परेशान रहते हैं। काला नमक कब्ज और गर्मियों के दौरान पेट फूलना जैसी परेशानियों से राहत दिलाता है। काला नमक इन दोनों परेशानियों को कम करने में मदद करता है।

बहुत ज्यादा गर्मी के चलते काफी लोगों को आंतों में गैस और जलन जैसी समस्या होने लगती है। वहीं पेय और खाद्य पदार्थों में काला नमक डालने से आंतों में होने वाली गैस की परेशानी से राहत मिलती है। काला नमक सीने में होने वाली जलन को दूर करने में मदद करता है। गर्मी के दौरान होने वाली यह एक आम समस्या है। जो आमतौर पर तैलीय और भारी खाद्य पदार्थों द्वारा हो जाती है।