च्युइंग गम चबाना कहीं पड़ न जाए सेहत पर भारी

Last Updated: May 16 2019 19:04
Reading time: 1 min, 4 secs

च्युइंग गम आजकल कई फ्लेवर में बाजार में उपलब्ध हैं। कई लोगों को च्युइंग चबाना अच्छा लगता है। कुछ लोग च्युइंग गम मुंह की एक्सरसाइज के लिए चबाते हैं तो कुछ लोग यूं ही फैशन में या टाइम पास के तौर पर इसका इस्तेमाल करते हैं। अगर आप भी इन्ही लोगों में से एक हैं तो सावधान हो जाएं क्योंकि इसके संकेत बिल्कुल अच्छे नहीं हैं। इन चीजों में मौजूद फूड एडिटिव की वजह से आपको कोलोरेक्टल कैंसर जैसी गंभीर बीमारी होने का खतरा कई गुना बढ़ जाता है।

हाल ही में हुई एक स्टडी के मुताबिक च्युइंग गम या मेयोनीज जैसी चीजों में वाइटनिंग एजेंट के रूप में आमतौर पर इस्तेमाल होने वाले फूड एडिटिव की वजह से पेट में जलन से जुड़ी बीमारी और कोलोरेक्टल कैंसर का खतरा रहता है। E171 जिसे टाइटेनियम डाइऑक्साइड नैनोपार्टिकल्स कहते हैं एक फूड एडिटिव है जिसका इस्तेमाल वाइटनिंग एजेंट के तौर पर बड़ी मात्रा में खाने-पीने की कई चीजों और यहां तक की दवाईयों में भी होता है। 

फ्रंटियर्स इन न्यूट्रिशन नाम के जर्नल में प्रकाशित इस स्टडी के अनुसार ऐसे फूड आइटम्स का सेवन करना जिसमें E171 फूड एडिटिव शामिल है का सीधा असर हमारी आंतों पर पड़ता है।  जिसकी वजह से पेट से जुड़ी कई बीमारियां और कोलोरेक्टल कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी होने की आशंका भी रहती है।