मुख्यमंत्री ने की श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार को नशे के विरुद्ध अपील जारी करने की विनती

Last Updated: Jul 12 2018 18:51

आज पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार सिंह साहिब ज्ञानी गुरबचन सिंह को समूह सिख भाईचारे को महान गुरू साहिबान द्वारा दिखाऐ मार्ग पर चलते हुए नशों की बीमारी से दूर रहने की अपील करने की विनती की है।

मुख्यमंत्री ने जत्थेदार साहिब को लिखे पत्र में कहा कि पंजाब में सिख परिपेक्ष्य से जब भी कोई संकट उत्पन्न होता है, तो उसे सुलझाने के लिए सिख पंथ के सर्वोच्च स्थान श्री अकाल तख्त साहिब की अहम भूमिका रही है। पंजाब राज्य की जनसंख्या के बड़े हिस्से को कई वर्षों से नशों के कोढ़ ने जकड़ा हुआ है। सिख परिवारों के बहुत से नौजवान भी इसका शिकार हो रहे हैं। मुख्यमंत्री ने चिंता ज़ाहिर करते हुए कहा कि अब यह समस्या भयानक रूप धारण कर चुकी है जो पूरी तरह सिख रीति-रिवाजों के खि़लाफ़ है। उन्होंने बताया कि नशों की कुरीति को बड़ी चुनौती मानते हुए राज्य सरकार ने व्यापक स्तर पर नशा-विरोधी मुहिम शुरु की हुई है, परन्तु इस स्थिति के साथ निपटने के लिए सरकार के कदमों को शक्तिशाली और गतिशील बनाने की ज़रूरत है।