बिजली मंत्री गुरप्रीत सिंह कांगड़ ने खेल सैल को ख़त्म करने से किया इंकार

Khushboo
Last Updated: Jul 12 2018 17:57

पंजाब के बिजली मंत्री गुरप्रीत सिंह कांगड़ ने पी.एस.पी.सी.एल. के स्पोर्टस सैल के खिलाडिय़ों की मांग के हक में आज कहा कि पंजाब सरकार नौजवानों में खेल सभ्याचार को उत्साहित करने और उन्हें उचित स्थानों पर सेवाएं देने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि पी.एस.पी.सी.एल. के खेल सैल की शुरुआत से अब तक 400 से अधिक खिलाड़ी इसका हिस्सा बन चुके हैं और अपनी इस प्राप्ति पर पी.एस.पी.सी.एल.भी गौरव महसूस करती है कि इसके द्वारा पिछले 15 वर्षों से ऑल इंडिया स्पोर्ट्स कंट्रोल बोर्ड चैंपियंस ट्रॉफी करवाई जा रही है। उन्होंने कहा कि अदारे में एक अर्जुन अवार्डी बतौर सीनियर स्पोर्टस अफ़सर अपनी सेवाएं निभा रहे हैं और हमारे पास पटियाला, बठिंडा और दूसरे ज़िलों में खेल का विशाल बुनियादी ढांचा मौजूद है।

कांगड़ ने कहा, "सबसे अहम बात यह है कि पंजाब सरकार नौजवानों को रोजग़ार के बढिय़ा मौके मुहैया करवा के नशों से दूर रखने के लिए वचनबद्ध है। इसलिए यह सवाल ही पैदा नहीं होता कि खेल सैल को ख़त्म काडर घोषित किया जाए। मैंने बोर्ड ऑफ डायरैकटरज़ को फ़ैसले की तुरंत समीक्षा के निर्देश दिए हैं और खिलाडिय़ों को भरोसा दिलाता हूं कि पी.एस.पी.सी.एल पहले की तरह खिलाडिय़ों की सेवाएं लेता रहेगा।"